Tehri में है देश का सबसे बड़ा बांध, साहसिक पर्यटन के लिए है मशहूर

प्रकृति को चाहने वालों और रोमांच के शौकीनों के लिए देवभूमि उत्तराखंड स्वर्ग के समान है। यहां स्थित हरे-भरे घास के मैदान, ऊंचे-ऊंचे पहाड़, सुंदर नदियां और आसमान से गिरती बर्फबारी पर्यटकों को उत्साह से भर देती है। उत्तराखंड में ऐसा ही एक बहुत खूबसूरत पर्यटन स्थल टिहरी बांध स्थित है। यह बांध उत्तराखण्ड राज्य के टिहरी जिले में स्थित है। इसे स्वामी रामतीर्थ सागर बांध के नाम से भी जाना जाता है। इस बांध को दो महत्वपूर्ण नदियों भागीरथी तथा भीलांगना के संगम पर बनाया गया है। विश्व के बड़े बांधों में से एक टिहरी बांध के निर्माण के कारण टिहरी शहर पानी में डूब गया था। इसके बाद टिहरी शहर को विस्थापित करके नई टिहरी शहर में बसाया गया।

टिहरी बांध लगभग 261 मीटर ऊंचा है। यह बांध भारत का सबसे बड़ा और ऊंचा बांध है, जबकि यह बांध विश्व का पांचवां सबसे ऊंचा और आठवा सबसे बड़ा बांध है। इसका उपयोग सिंचाई तथा बिजली पैदा करने हेतु किया जाता है। पर्यटकों के रोमांच के लिए टिहरी बांध पर बहुत कुछ हैं। टिहरी झील को निहारने के लिए आने वाले पर्यटक यहां पर साहसिक पर्यटन का आनंद ले सकते हैं। टिहरी झील पर पर्यटक नौका विहार, जेट स्पीड बोट सवारी, वाटर स्कीइंग, जोर्बिंग, बनाना वोट सवारी, बैंडवेगन वोट सवारी, हॉटडॉग सवारी, पैराग्लाइडिंग का मजा ले सकते हैं।

42 वर्ग किलोमीटर लंबे टिहरी बांध को देखने के लिए हर साल बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक पहुंचते हैं। टिहरी बांध के पास सबसे बड़ा रॉकफिल टिहरी बांध भी पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है। टिहरी बांध पर आने वाले पर्यटकों के लिए यहां और भी पर्यटन स्थल मौजूद है। टिहरी बांध के पास ही भागीरथीपुरम, रानीचौरी और बादशाही थौल जैसे पर्यटन स्थल स्थित हैं। इनके अलावा पर्यटक सुरकंडा देवी, चंद्रब्रदनी, कुंजापुरी, सेम मुखेम जैसे प्रसिद्द धार्मिक स्थलों के दर्शन भी कर सकते हैं।

कैसे पहुंचें टिहरी बांध

यह लोकप्रिय पर्यटन स्थल टिहरी जिले के मुख्यालय नई टिहरी के करीब स्थित है। नई टिहरी तीनों मार्ग द्वारा आसानी से पहुंचा जा सकता है। नई टिहरी से नजदीकी हवाई अड्डा लगभग 86 किलोमीटर दूर जॉली ग्रांट हवाई अड्डा है। दिल्ली से जॉलीग्रांट हवाई अड्डे के लिए नियमित उड़ाने उपलब्ध है। जॉलीग्रांट हवाई अड्डे से नई टिहरी जाने के लिए कैब और टैक्सी उपलब्ध है। नई टिहरी से नजदीकी रेलवे स्टेशन 72 किलोमीटर दूर ऋषिकेश में स्थित है। नई टिहरी सड़क मार्ग द्वारा हरिद्वार, ऋषिकेश और देहरादून जैसे प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *