लोहे की पतली रॉड पर लपेट कर बनाई गई कश्मीर की लाजवाब डिश सीख कबाब

कश्मीर की सुंदरता की तरह यहां का खाना भी स्वर्गीय एहसास करवाता है। कश्मीरी भोजन पंडितों, मुसलिमों और मुगलों की तीन अलग-अलग पाक शैलियों का मिश्रण माना जाता है। दालचीनी, इलायची और लौंग जैसे मसालों के उपयोग से कश्मीरी पकवान तैयार किए जाते हैं। कश्मीरी भाेजन गया में शुद्ध देशी घी का उपयाेग किया जाता है, जिससे खाने का स्वाद चार गुना बढ़ जाता है। हम आपको कश्मीर की एक एेसी डिश के बारे में बता रहे हैं, जिसे सीख कबाब के नाम से जाना जाता है। यह एक मांसाहारी डीश है।

सीख कबाब लोहे की पतली रॉड पर लपेट कर बनाया जाता है, इसलिए इसे सींक कबाब भी कहते हैं। यह मटन से बनता है, लिहाजा इसे मटन सीख कबाब भी कहा जाता है। यह अपने अनोखे स्वाद के कारण लोगों को मुरीद बना देता है। यही कारण है कि मटन सीख कबाब नॉनवेज के शौकीनों को बहुत पसंद आता है। अगर कभी कश्मीर घूमने आएं, ताे यहां के सीख कबाब काे जरूर टेस्ट करें। सीख कबाब इस तरह तैयार किया जात है।

सीख कबाब बनाने के लिए सामग्री

  • मटन कीमा – 500 ग्राम
  • प्याज – 02 मध्यम आकार के
  • काजू – 02 बड़े चम्मच
  • गर्म मसाला पाउडर – 3/4 चम्मच
  • कच्चे पपीते का पेस्ट – 01 बड़ा चम्मच
  • क्रीम – 02 छोटे चम्मच
  • चाट मसाला – 01 चम्मच (ऊपर से छिड़कने के लिए),
  • नमक – स्वादानुसार
  • नींबू – 01

इस तरह से बनाया जाता है सीख कबाब
सबसे पहले काजू को 15 मिनट के लिए हल्के गर्म पानी में भि‍गोने के बाद उसे भी महीन पीस लिया जाता है। प्याज को काट कर ब्राउन होने तक भूना जाता है। इसके बाद प्याज, कीमा, काजू, गरम मसाला, पपीते का पेस्ट, क्रीम और आवश्यकतानुसार नमक को मिलाकर गूंथकर एक घंटे के लिए रख दिया जाता है। फिर अवन में रॉड (जिसपर कबाब को लपेटा जा सके) को हल्का गरम करके कीमे रॉड के चारों ओर लपेटा जाता है।


इसी प्रकार बाकी बचे कीमे को भी लपेटकर अवन में पकाया जाता है। बीच-बीच में रॉड को घुमाया जाता है, ताकि कबाब सभी तरह से बराबर सिके। हल्का भूरापन आने पर उसे बाहर निकाल लेते हैं।
इसके बाद मटन सीख कबाब को सर्विंग प्‍लेट में निकालकर नींबू का रस और चाट मसाला डालकर परोसा जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!