जन्नत का दरवाजा है जम्मू-कश्मीर की गुरेज घाटी, खूबसूरती ऐसी जो दिल में बस जाएं

कहा जाता है कि धरती पर कहीं स्वर्ग है तो वह जम्मू कश्मीर में है। अगर प्रकृति से प्यार करते हैं और आप घूमने के शौकीन हैं, तो आपके लिए जम्मू कश्मीर से अच्छी जगह नहीं हो सकती। चारों तरफ से खूबसूरत वादियों से घिरा हुए जम्मू-कश्मीर की सुंदरता ऐसी है कि जो एक बार यहां आ जाए वो इसे जिंदगी भर नहीं भूल सकता। जम्‍मू-कश्‍मीर में ऐसी कई जगहें हैं, जहां आप घूम सकते हैं और खूब सारी मस्‍ती कर सकते हैं। आज हम आपको जम्‍मू-कश्‍मीर के ऐसी ही एक जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे स्वर्ग का दरवाजा भी कहा जाता है। हम बात कर रहे है गुरेज घाटी की।

समुद्रतट से 8000 फीट की ऊंचाई पर स्थित ये घाटी श्रीनगर से 125 किलोमीटर दूर है। अगर आप जम्मू-कश्मीर घूमने जाने का प्लान बना रहे हो, तो गुरेज की घाटी को देखे बिना जम्मू-कश्मीर की खूबसूरत का सफर अधूरा ही रह जाएगा। ठंडी-ठंडी ताजी हवा और यहां की प्राकृतिक खूबसूरती पर्यटकों को असीम शांति प्रदान करती है। पर्यटक यहां आकर रॉक क्लाइंबिंग, फिशिंग और ट्रैकिंग का मजा भी ले सकते हैं। गुरेज घाटी में घूमने के लिए कई आकर्षक स्थल मौजूद हैं।

हब्‍बा खातून पर्वत

इस त्रिकोणीय पर्वत का नाम कश्‍मीरी कवि हब्‍बा खातून के नाम पर रखा गया है। माना जाता है कि हब्‍बा खातून आज भी यहां अपने पति को तलाश रही हैं। प्रकृति के सौंदर्य से परिपूर्ण यह पर्वत घाटी का मुख्य आकर्षण है।

दवार

गुरेज घाटी आने वाले पर्यटक एक बार दवार का दीदार करने जरूर आते हैं। इसे घाटी का केंद्रीय हिस्सा भी कहा जाता है। पहाड़ियों की गोद में बसे दवार में चारों और बहती नदियों की आवाज गूंजती है। यहां की गंगाबल झील भी टूरिस्ट में बहुत फेसम है।

तुलैल घाटी

दवार से लगभग 42 किलोमीटर दूर यह घाटी ग्रामीण जनजीवन और फिशिंग के लिए लोकप्रिय है। यहां बिताए पल आप कभी नहीं भूल पाएंगे। यहां आकर आप सकारात्मक ऊर्जा को महसूस कर पाएंगे।

हरमुख

समुद्रतट से 16870 फीट ऊंचा यह पहाड़ हिमालय की श्रृंख्लाआओं का हिस्सा है। यह सिंध और किशनगंगा नदी के बीच स्थित है। भगवान शिव का वास होने के कारण यह स्थल हिन्दू धर्म के लोगों के बीच पवित्र माना जाता है।

कैसे पहुंचें

गुरेज हिमालय में स्थित एक घाटी है। गुरेज घाटी बांदीपुरा से 86 किलोमीटर और श्रीनगर से 125 किलोमीटर दूर स्थित है। श्रीनगर से गुरेज घाटी जाने के लिए आप बस या फिर किराए की गाड़ी की मदद ले सकते हो। गुरेज घाटी से नजदीकी हवाई अड्डा श्रीनगर में है। गुरेज घाटी आने का सबसे सही समय मई से अक्‍टूबर के बीच का रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!