प्रकृति से है प्यार तो एक बार जरूर आएं पहलगाम की बेताब घाटी

जम्मू कश्मीर को अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के कारण पूरी दुनिया में एक अलग पहचान मिली हुई है। अपनी अद्भुत सुंदरता के कारण जम्मू कश्मीर को धरती का स्वर्ग भी कहा जाता है। यहां का मनमोहक वातावरण, पहाड़ी घाटियां, खूबसूरत झीलें, बर्फ से ढके पहाड़ और दूर-दूर तक फैली हरियाली जम्मू कश्मीर को खास बनाती है। यहां का शांत वातावरण और हरा-भरा परिदृश्य पर्यटकों को काफी ज्यादा प्रभावित करता है। आज हम आपको जम्मू कश्मीर के ऐसे ही एक खूबसूरत पर्यटन स्थल बेताब घाटी के बारे में बताने जा रहे हैं। बेताब घाटी आकर पर्यटकों को प्रकृति के बेहद खूबसूरत दृश्यों को देखने का मौका मिलता है।

जम्मू कश्मीर में स्थित यह आकर्षक घाटी पहलगाम से 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस स्थान को प्रसिद्द शेषनाग झील का जन्म स्थान भी माना जाता है। अगर आप प्रकृति से प्यार करते हो तो फिर यह आपके लिए एक आदर्श जगह है। प्रकृति प्रेमी इस जगह की खूबसूरती से प्रभावित हुए बिना नहीं रह सकते। हरे-भरे नर्म घास के मैदान और बर्फीली चोटियों से घिरी हुई यह आकर्षक घाटी पहलगाम और चंदनवाड़ी के बीच पड़ती है। यहां से एक रास्ता अमरनाथ गुफा को भी जाता है। बेताब घाटी आकर पर्यटक चारों तरफ शानदार वनस्पतियों को देख सकते हैं। यहां का शांत वातावरण मन को असीम शांति प्रदान करता है।

बेताब घाटी के बारे में कहा जाता है कि यहां पर इंसानों ने नवपाषाण काल से ही रहना शुरू किया। कश्मीर का हिस्सा होने के कारण यहां मुगलों का शासन भी रह चुका है। यह घाटी हिमालय की दो पहाड़ी श्रृंखलाओं पीर पंजाल और जांस्कर के बीच स्थित है। यह घाटी शुरू से ही पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र रही है। यहां सालभर पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है। यहां का मौसम साल भर मनमोहक और सुहावना बना रहता है। प्रदूषण रहित यह स्थल पर्यटकों को अपार आत्मिक और मानसिक शांति का अनुभव कराता है। बेताब घाटी के नाम के पीछे भी एक दिलचस्प कहानी है। दरअसल इसी जगह पर 1983 में आई सनी देओल और अमृता सिंह की बॉलीवुड फिल्म ‘बेताब’ की शूटिंग हुई थी। फिल्म के हिट होने के बाद इस स्थान का नाम ‘बेताब घाटी’ रखा गया था।

कैसे पहुंचें बेताब घाटी

यह लोकप्रिय पर्यटन स्थल जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में पहलगाम से 7 किलोमीटर दूर है। यहां से निकटतम हवाई अड्डा श्रीनगर में स्थित है। श्रीनगर से पहलगाम आने के लिए बस और टैक्सी की सुविधा उपलब्ध है। पहलगाम से सड़क और पैदल मार्ग द्वारा बेताब घाटी तक आसानी से पहुंचा जा सकता है। सड़क मार्ग से जम्मू से आसानी से पहलगाम पहुंचा जा सकता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!