हिमाचल प्रदेश की खूबसूरती को IITM ने भी किया सलाम, मिले दो अवार्ड

अपनी पहाड़ी खूबसूरती और प्राकृतिक सुंदरता के लिए पहचाने जाने वाला हिमाचल प्रदेश लगातार देसी और विदेशी पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। यहां के नैसर्गिक सौंदर्य एवं शांत वादियों को देखने के लिए पर्यटक हिमाचल प्रदेश की ओर खिंचे चले आते हैं। बेंगलुरु में आयोजित इंडिया इंटरनैशनल ट्रेवल मार्ट (आईआईटीएम) में भी यही सामने आया है कि हिमाचल प्रदेश के पर्यटन स्थलों का कोई जवाब नहीं है। आईआईटीएम में हिमाचल प्रदेश के हिल स्टेशनों को दिल को छूने वाली खूबसूरती व एडवेंचर टूरिज्म को खास तौर पर सराहा गया। हिमाचल प्रदेश के टूरिज्म विभाग ने आईआईटीएम में दो अवार्ड हासिल किए हैं। पहला ‘बेस्ट एडवेंचर टूरिज्म डेस्टिनेशन ऑफ दि ईयर’ और दूसरा ‘बेस्ट हिल स्टेशन ऑफ दि ईयर अवार्ड’।

बड़ी स्क्रीन पर कराया पर्यटन स्थलों का दीदार

दरअसल बीते दिनों बेंगलुरु में देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इंडिया इंटरनैशनल ट्रेवल मार्ट (आईआईटीएम) का आयोजन किया गया। इस आयोजन में हिमाचल प्रदेश के अलावा मध्य प्रदेश, गोवा, गुजरात, अंडमान, बंगाल, उत्तराखंड, केरल, राजस्थान, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश के पर्यटन विभाग के साथ-साथ होटल, रिजार्ट, ट्रेवल एजेंसी के अलावा आर्ट एंड कल्चर से व्यवसाइयों ने भाग लिया था। यहां पर विभागों ने अपने-अपने राज्यों के पर्यटन स्थलों के स्टाल लगाए थे, जिसमें पर्यटन स्थलों और एडवेंचर से संबंधित प्रदर्शनियां भी लगाई गई थी। ट्रेवल मार्ट में हिमाचल प्रदेश ने एक बड़ी स्क्रीन लगाकर देसी-विदेशी मेहमानों को राज्य के पर्यटन स्थलों का दीदार कराया। इसके बाद लगभग दस राज्यों के टूरिज्म को लेकर सेंटर टूरिज्म डिपार्टमेंट ने सर्वेक्षण किया और हिमाचल प्रदेश को बेस्ट एडवेंचर टूरिज्म डेस्टिनेशन ऑफ दि ईयर और बेस्ट हिल स्टेशन ऑफ दि ईयर अवार्ड से सम्मानित करने का निर्णय लिया।

प्रभावित हुए पर्यटक

खास बात यह रही कि वहां आए पर्यटक हिमाचल प्रदेश की खूबसूरती से इतने प्रभावित हुए कि बड़ी संख्या में पर्यटकों ने सितंबर महीने में हिमाचल के विभिन्न पर्यटन स्थलों में घूमने आने के लिए इन्क्वायरी कर दी। हिमाचल की प्रदर्शनी में तीर्थन वैली, बीड़, जंजैहली, चांसल, महाराणा प्रताप सागर, सराहण, चंद्रताल, की मॉनेस्ट्री, शिकारी देवी, रिवालसर, कमरूनाग लेक, रेणुका, मणिमहेश, बरोट, चायल पैलेस, एडवांस स्टडी, सोलंग वैली, ज्वालाजी को डिस्प्ले पर रखा गया था। इन पर्यटन स्थलों को पर्यटकों ने काफी पसंद किया है।

India International Travel Mart

मनाली-कीरतपुर साहिब फोरलेन के टनल के दोनों छोर मिले

देहरादून-हरिद्वार-ऋषिकेश में जाम से राहत दिलाएगा ‘रैपिड ट्रांजिट सिस्टम’

17 अगस्त को उत्तराखंड के दयारा बुग्याल में मनाया जाएगा ‘बटर फेस्टिवल’

India International Travel Mart

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *