पिथौरागढ़ में है प्रसिद्ध गुरना माता मंदिर, अपने भक्तों की करती हैं रक्षा

उत्तराखंड में टनकपुर राष्ट्रीय राजमार्ग से पिथौरागढ़ जिले से 13 किलोमीटर की दूरी पर गुरना गांव के नजदीक गुरना माता का प्रसिद्द मंदिर है। वैसे इस मंदिर का वास्तविक नाम ‘पाषाण देवी मंदिर’ है, लेकिन गुरना गांव के नजदीक होने के कारण इसे गुरना देवी मंदिर के नाम से जाना जाने लगा। गुरना माता का मंदिर पूरे जिले की लोगों की आस्था का केंद्र है। हाईवे से गुजरने वाले यात्री अपने वाहन को रोककर माता का आशीर्वाद लेना नहीं भूलते हैं। आज मंदिर के सामने से गुजरने वाली हर गाड़ी फिर वह सरकारी वाहन हो या निजी वाहन हो मंदिर में रुकती है। भक्त माता के सामने शीश झुकाने और प्रसाद ग्रहण करने के बाद ही आगे बढ़ते हैं। भक्तों की सुविधा को देखते हुए मंदिर परिसर के करीब एक बड़े हाल का निर्माण कराया गया है। यहां साल भर कई तरह के कार्य्रम भी आयोजित किए जाते हैं।

मंदिर का इतिहास

भक्तों के अनुसार इस मंदिर की स्थापना कई साल पहले की गई थी। बाद में 1950 के दौरान जब पिथौरागढ़ को सड़क मार्ग से जोड़ा गया तो यह मंदिर सड़क के नीचे दब गया। मंदिर के नीचे दबने के बाद सड़क मार्ग पर लगातार दुर्घटनाएं होने लगीं। ऐसे में एक दिन मंदिर के पुजारी को सपना आया कि मंदिर का निर्माण सड़क के किनारे किया जाए। इसके बाद पुजारी ने भक्तों की मदद से सड़क के किनारे मंदिर का निर्माण किया। मंदिर की स्थापना के बाद लगातार होने वाली दुर्घटनाएं बंद हो गई।

गुरना देवी के मंदिर में लोगो की गहरी आस्था है। भक्तों का विश्वास है कि माता के मंदिर में जो भी व्यक्ति सच्चे मन से प्रार्थना करता है उसकी सभी मनोकामना जरुर पूरी होती हैं। भक्तों के बीच गुरना देवी मंदिर की मान्यता जम्मू कश्मीर के प्रसिद्द ‘वैष्णो देवी मंदिर’ के समान है। मंदिर के पास ही ठंडे पानी का वसंत भी है, जिसे भक्त प्रसाद के रूप में ग्रहण करते हैं.

कैसे पहुंचें गुरना देवी के मंदिर

गुरना देवी का मंदिर, पिथौरागढ़ से लगभग 13 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस दूरी को भक्त टैक्सी या बस की मदद से आसानी से तय कर सकते हैं। पिथौरागढ़ सड़क मार्ग से उत्तराखंड के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। दिल्ली, नैनीताल और बद्रीनाथ से पिथौरागढ़ के लिए बस सुविधा उपलब्ध है। गुरना देवी मंदिर से नजदीकी हवाई अड्डा लगभग 205 किलोमीटर दूर पंतनगर में स्थित है। पंतनगर एयरपोर्ट से गुरना देवी मंदिर आने के लिए बस और टैक्सी की सुविधा उपलब्ध हैं। गुरना देवी मंदिर से नजदीकी रेलवे स्टेशन लगभग 205 किलोमीटर दूर टनकपुर में स्थित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *