दशहरा उत्सव की तैयारियां जोरों पर, 300 देवी-देवताओं को भेजे जा चुके हैं निमंत्रण

international dussehra festival

हर साल कुल्लू में आयोजित किया जाने वाला प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय दशहरा उत्सव इस वर्ष 8 से 14 अक्तूबर तक मनाया जाएगा। उत्सव को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन और अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव समिति ने अपनी ओर तैयारियां आरंभ कर दी हैं। मंगलवार को उपायुक्त ने जिला परिषद के सम्मेलन कक्ष में विभिन्न विभागों और नगर परिषद के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक के दौरान उपायुक्त ने अधिकारियों को सड़क, बिजली और पेयजल लाइनों की मरम्मत, सफाई व्यवस्था, मैदान और देवी-देवताओं के अस्थायी स्थलों के सुंदरीकरण के कार्य सितंबर तक ही पूरा करने के आदेश दिए है। इस दौरान उन्होंने उत्सव समिति से तैयारियों को लेकर भी जानकारी हासिल की।

international dussehra festival

300 देवी-देवताओं को भेजा निमंत्रण

उपायुक्त ने बताया कि दशहरा उत्सव के लिए आयोजन समिति की ओर जिला के देवी-देवताओं को भेजे जा रहे हैं। देवी-देवता ही कुल्लू के दशहरा उत्सव की शान हैं। अब तक 300 के करीब देवी देवताओं को निमंत्रण भेज दिए गए हैं। देवी-देवताओं और इनके साथ आने वाले देवलुओं को सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया करवाई जाएंगी। सुविधाओं में किसी प्रकार की कमी नहीं होगी। 25 सितंबर से मेला स्थल पर प्लाट आवंटन की प्रकिया शुरू कर दी जाएगी। प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी हो इसकी व्यवस्था की जाएगी। मेले में आने वाले लोगों की सुरक्षा और सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

Image result for International Dussehra Festival kullu

international dussehra festival

सुविधा और सुरक्षा 

उपायुक्त ने कहा कि दुकान और अन्य स्टॉल लगाने की अनुमति अग्निशमन विभाग के मानकों के अनुसार प्रदान की जाएगी। सफाई के लिए मेला स्थल पर कूड़ेदान और अस्थायी शौचालय बनाए जाएंगे। इसके अलावा सुरक्षा और यातायात प्रबंधों को लेकर जिला पुलिस एक व्यापक प्लान तैयार करेगी। मेला क्षेत्र में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएंगे। इसके अलावा उत्सव के दौरान आयोजित की जाने वाली सांस्कृतिक संध्याओं के लिए देश-विदेश के सांस्कृतिक दलों को बुलाया जाएगा। इसके लिए भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद और विभिन्न प्रदेशों से पत्राचार किया जा रहा है। उपायुक्त ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार दशहरा उत्सव समिति की राज्य स्तरीय बैठक होगी, जिसमें उत्सव की रूपरेखा को अंतिम रूप दिया जाएगा।

international dussehra festival

हिमाचल की खूबसूरती और सांस्कृतिक विविधता दिखाता ‘सर्वे भवन्तु सुखिन:’

हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड को भारी पड़ सकते हैं अगले कुछ दिन

पर्यटन बढ़ाने के लिए टूरिज्म ऑन व्हील्स शुरू करेगा उत्तराखंड परिवहन निगम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *