कमल के तनों से बनाया जाता है कश्मीर का लोकप्रिय स्नेक्स नादुर चूरमा

प्राकृतिक खूबसूरती के साथ-साथ कश्मीरी खाने का भी कोई जवाब नहीं है। वेज हो या नॉनवेज, दोनों ही तरह का कश्मीरी खाना लाजवाब है। यही कारण है कि कश्मीर की प्राकृतिक सुंदरता का दीदार करने आने वाले पर्यटक यहां के खाने का स्वाद लेना कभी नहीं भूलते। आज हम आपको कश्मीर के एक ऐसे ही स्वादिष्ट व्यंजन नादुर चूरमा के बारे में बताने जा रहे हैं। नादुर चूरमा को कश्मीर का फ्रेंच फ्राइज भी कहा जा सकता है। इसे कश्मीरी लोग त्योाहारों के दौरान भी बनाते हैं। कमल के फूल की टहनियों से बनाए जाने वाले इस व्यंजन को पुदीने की चटनी के साथ परोसा जाता है। यह कश्मीरियों के लिए सबसे लोकप्रिय के स्नेक्स में से एक है। स्वादिष्ट होने के साथ-साथ यह सेहत में भी दमदार है। इसमें प्रोटीन और वसा बड़ी मात्रा में पाया जाता है।

सामाग्री

कमल के फूल की टहनियां – आधा किलो
कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर – एक बड़ा चम्मच
चावल का आटा – 250 ग्राम
जीरा – 2 बड़े चम्मच
तलने के लिए तेल – 350 मिली
पानी – 2 कप
नमक – स्वादानुसार

Related image

कैसे बनाया जाता है नादुर चूरमा

इसे बनाने के लिए सबसे पहले कमल के तनों को छीलकर उन्हें अच्छी तरह पानी से धोया जाता है। इसके बाद तनों को तीन बड़े टुकड़ों में काटकर वेजिटेबल चॉपर की मदद से तने की स्लाइस बनाई जाती है। अब कटे हुए तनों को एक बर्तन में रखकर उसमें नमक, लाल मिर्च पाउडर, जीरा, चावल का आटा और थोडा पानी डालकर अच्छी तरह से मिलाया जाता है। मिश्रण के अच्छी तरह से मिल जाने के बाद एक कढ़ाई में तेल डालकर उसे गर्म किया जाता है। इसके बाद कमल के तनों को तेल में डीप फ्राई करके अच्छी तरह से घुमाते हुए तला जाता है। तलने के बाद कमल के तनों को किचन पेपर टॉवल या अखबार के टुकड़े पर रखकर उसका अतिरिक्त तेल हटाया जाता है। कुछ इस तरह से तैयार होता है स्वादिष्ट नादुर चूरमा। इसे कश्मीरी प्याज की चटनी, टमाटर की चटनी या पुदीने की चटनी के साथ परोसा जाता है।

उत्तरांचल का स्वादिष्ट व्यंजन है तिल की चटनी, झट से हो जाती है तैयार

नॉनवेज के शौकीनों का पसंदीदा भोजन है कुल्लू ट्राउट मछली

दही और बेसन से मिलकर बनाया जाता है कुमाऊं का पारंपरिक व्‍यंजन झोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *