असाधारण नक्काशी का अद्भुत नमूना है Lahaul का मृकुला देवी मंदिर

बाहर से देखने पर यह धार्मिक स्थल साधारण और कुटीर सा लगता है, लेकिन भीतर जाने पर आपको कला की एक अलग ही दुनिया देखने को मिलती है। मंदिर की काष्ठ कला विभिन शताब्दियों में की गई हैं।

Read more

रोमांच के शौकीनों के लिए बर्फीले पहाड़ों से घिरा काजा स्वर्ग से कम नहीं

प्रकृति प्रेमी और रोमांच के शौकीनों के लिए चारों ओर से बर्फीले पहाड़ों से घिरा काजा एक आदर्श पर्यटन है। काजा में स्थित नदियां और झरने इस जगह की खूबसूरती को कई गुना बड़ा देते हैं। मठों, प्राचीन गांवों और अन्य दर्शनीय स्थलों से भरा होने के कारण काजा का ऐतिहासिक महत्व भी है।

Read more

पर्यटकों के लिए एक बार फिर से खोला गया रोहतांग दर्रा, जनजातीय लोगों ने ली राहत की सांस

सीमा सड़क संगठन के जवानों ने मिशन स्नो क्लीयरेंस शुरू करने के महज 24 घंटों के भीतर ही रोहतांग दर्रे को बहाल कर दिया। रोहतांग दर्रे के खुलने के बाद शुक्रवार को कोकसर से मनाली की तरफ लगभग 50 वाहनों को छोड़ा गया, जबकि वन वे ट्रैफिक के चलते मनाली से लाहौल की तरफ एक भी वाहन को नहीं जाने दिया गया। शनिवार को मनाली से लाहौल की तरफ वाहनों को छोड़ा जाएगा।

Read more

बर्फ से ढके पर्वतों की गोद में बसा है दुनिया का सबसे ऊंचा गांव किब्बर

किब्बर की खासियत यह है कि यहां बारिश बहुत कम होती है बल्कि ज्यादातर समय यहां सिर्फ बर्फ गिरती है। इसलिए पर्यटक इस ओर खींचे चले आते है। बर्फ गिरने से यहां कई फूट मोटी बर्फ की चादर जम जाती है।

Read more