हिमाचल प्रदेश के कल्पा में हुई बर्फबारी, पर्वतीय क्षेत्रों में ताजी बर्फबारी से तेज हुई शीतलहर

मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि आने वाले समय में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस का पुरवइया हवाओं के साथ टकराव होगा जिसकी वजह से पहाड़ों के साथ-साथ मैदानी इलाकों में मौसम बदल जाएगा। इस कारण प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में 9 दिसंबर को बारिश और बर्फबारी हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार 10 दिसंबर को प्रदेश के कई हिस्सों में भारी बर्फबारी हो सकती है। मौसम विभाग ने बताया है कि 13 दिसंबर तक प्रदेश में बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी रहेगा। कई जगहों पर भारी बर्फबारी का अंदेशा भी मौसम विभाग ने जताया है।

Read more

विंटर सीजन में गुलजार हुई पहाड़ों की रानी शिमला, बड़ी संख्या में बर्फ का दीदार करने पहुंचें सैलानी

शिमला के साथ-साथ पर्यटक कुफरी, फागू, नालदेहरा और नारकंडा भी पहुंच रहे हैं। एक अनुमान के अनुसार इस वीकेंड पर शिमला में ही पांच से छः हजार पर्यटक पहुंच गए हैं। एचआरटीसी की बसों में भी अन्य राज्यों से आने वाले पर्यटकों की अधिक संख्या देखने को मिल रही हैं। अधिक मात्र में पर्यटकों के आने से पर्यटन से जुड़े व्यापारियों के चेहरे खिल गए हैं। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों को उम्मीद है कि अधिक संख्या में पर्यटकों के आने से इस बार कारोबार बेहतर होगा।

Read more

बर्फबारी से स्वर्ग जैसा खूबसूरत हुआ मनाली का नजारा, खिले सैलानियों के चेहरे

पर्यटन नगरी मनाली में सात सेंटीमीटर बर्फबारी दर्ज की गई है। बर्फबारी के कारण मनाली का न्यूनतम तापमान माइनस 1.2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। बर्फबारी के चलते मनाली का नजारा स्वर्ग जैसा खूबसूरत हो गया है। पूरा मनाली बर्फ की सफ़ेद चादर से ढका हुआ नजर हुआ है। कारें और घर बर्फ की चादर में छिप गई हैं। बर्फबारी के कारण पर्यटक मनाली व आसपास के पहाड़ी इलाकों में पहुंचना शुरू हो गए हैं।

Read more

बारिश-बर्फबारी के बाद हिमाचल में सूरज ने बिखेरी रोशनी, खूबसूरत हुआ पहाड़ों का नजारा

कुल्लू व लाहुल-स्पीति घाटी में पिछले तीन दिनों से जारी बर्फबारी और बारिश के बाद गुरुवार को मौसम साफ़ हुआ। इससे पहले बुधवार को लाहुल स्पीति, किन्नौर, शिमला सहित अन्य ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी होने से निचले इलाकों में ठंड बढ़ गई है। बुधवार रात को नारकंडा, खड़ापत्थर, रोहड़ू की चांशल घाटी सहित ऊंचे स्थानों पर हिमपात हुआ। बुधवार सुबह लाहुल स्पिति के कोकसर में 8 इंच ताजा बर्फबारी हुई है।

Read more

बर्फबारी के कारण पर्यटकों के लिए एक बार फिर से बंद हुआ रोहतांग दर्रा, गुलाबा बना स्नो प्वाइंट

बर्फबारी के चलते गुलाबा इन दिनों पर्यटकों के लिए स्नो प्वाइंट बना हुआ है। रविवार को 400 से अधिक पर्यटक वाहन गुलाबा पहुंचे। इससे यहां लंबे समय तक जाम लगा रहा। बता दे कि रविवार को भी रोहतांग दर्रे में हल्की बर्फबारी के बीच वाहनों की आवाजाही जारी रही। ख़राब मौसम के कारण एचआरटीसी ने केलंग कुल्लू पर बस सेवा को बंद कर दिया है। पैदल राहगीरों की मदद के लिए रोहतांग दर्रे में लाहुल स्पीति प्रशासन द्वारा रेस्क्यू पोस्ट स्थापित किया जाएगा। अब रोहतांग दर्रे पर वाहनों की आवाजाही फिर से कब शुरू होगी यह मौसम की परिस्थितियों पर निर्भर करेगा।

Read more

बर्फबारी के चलते हिमाचल प्रदेश सरकार ने पर्यटकों को दी पहाड़ी इलाकों में न जाने की सलाह

गौरतलब है कि प्रदेश में सर्दियों ने अपनी दस्तक दे दी है। इस मौसम में लाहौल-स्पीति, किन्नौर और कुल्लू की पहाड़ियों पर अप्रत्याशित बर्फबारी की संभावना हमेशा बनी हुई रहती है, साथ ही हिमस्खलन का खतरा भी होता है। ऐसे में किसी भी प्रकार की अनहोनी से बचने के लिए सरकार की तरफ से पर्यटकों व स्थानीय लोगों को ऊंचाई वाले क्षेत्रों का रुख न करने की सलाह दी है। इस बीच अतिरिक्त मुख्य सचिव लोक निर्माण, राजस्व एवं आपदा प्रबन्धन ने सोमवार को बताया कि भारी बर्फबारी के कारण चम्बा जिले के होली क्षेत्र फंसे तीन युवकों को भारतीय वायु सेना के हेलीकॉप्टर की मदद से बचा लिया गया हैं।

Read more

पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी के कारण कड़ाके की ठंड, केदारनाथ धाम में 3 इंच तक जमी बर्फ

बर्फबारी के कारण बाबा के दर्शनों के लिए गए आने वाले भक्तों को भी खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। केदारनाथ धाम में हुई बर्फबारी से चारों ओर बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है। मंगलवार को केदारनाथ में सुबह से ही तेज धूप निकल गई थी, जिसके कारण लोगों ने राहत की महसूस की। लेकिन दोपहर में अचानक एक बार फिर से मौसम ख़राब हुआ। कुछ ही देर में चारों तरफ घना कोहरा छा गया और बर्फबारी का दौर शुरू हो गया। बर्फबारी के कारण केदारनाथ धाम में तापमान 2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है।

Read more

‘तितली’ ने उड़ीसा और आंध्रप्रदेश में मचाई भारी तबाही, उत्तराखंड में भी अलर्ट जारी

चक्रवाती तूफान ‘तितली’ के रोद्र रूप को देखते हुए उत्तराखंड में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। उत्तराखंड में भी तितली तूफान का असर देखने को मिल रहा है। पश्चिमी विक्षोभ और तितली तूफान के चलते उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र के तापमान में तेजी से गिरावट आई है। तूफान के चलते उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बर्फ़बारी और मैदानी इलाकों में बारिश भी हुई है। राहत की बात यह है कि मौसम वैज्ञानिकों ने अनुमान जताया है कि चक्रवाती तूफान तितली का कुमाऊं में आंशिक असर है और शुक्रवार के बाद मौसम साफ रहेगा।

Read more

रोमांच से भरपूर ट्रिप का आंनद लेना है तो आइए हिमाचल के सोलंग

मनाली से सोलंग घाटी लगभग 14 किलोमीटर दूर स्थित है। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई लगभग 2490 मीटर है। सोलंग घाटी की खूबसूरत हरी-भरी पहाड़ियां बड़ी दूर से भी दिखाई देते हैं। रोमांच प्रेमियों के लिए सोलंग घाटी किसी स्वर्ग से कम नहीं है। गर्मियों के मौसम में यहां आकर पर्यटक पैराग्लाइडिंग, पैराशूटिंग, घुड़सवारी और जोर्बिंग का आनंद लेते हैं जबकि सर्दियों के मौसम में बर्फ से ढकी सफ़ेद ढलान पर स्कीइंग का लुफ्त उठाते हैं। सोलंग एकमात्र ऐसा स्थल जहां आकाश में उड़ने के रोमांचक खेलों से लेकर हिमानी क्रीड़ाओं तक का आयोजन होता है। सोलंग में कई बार राष्ट्रीय शीतकालीन खेलों का आयोजन हो चूका हैं।

Read more

बर्फ की सफेद चादर से ढका कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में ठंड का कहर जारी है। घाटी में तापमान जीरो से नीचे पहुंच गया है। घाटी में 21 दिसंबर से शुरू हुई भीषण ठंड की 40 दिन की अवधि को ‘चिल्लई कलां’ के नाम से जाना जाता है।

Read more
error: Content is protected !!