धूप खिलने से उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में लोगों ने ली राहत की सांस, हिमस्खलन का खतरा बढ़ा

बर्फबारी के कारण गंगोत्री सहित इंडो-चायना बॉर्डर इनरलाइन, हर्षिल, सुखी, झाला, मुखबा बर्फ से ढक गए हैं, जबकि यमनोत्री मंदिर सहित राड़ी, सरनोल गीठ पट्टी में जम कर बर्फ की फुहारें पड़ रही हैं। हालांकि बर्फबारी के कारण पर्यटक, पर्यटन व्यवसाई और किसान खुश नजर आ रहे हैं। पर्यटक बर्फबारी का जमकर आनंद ले रहे है जबकि पर्यटन व्यवसायों को उम्मीद है कि बर्फबारी के कारण पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा।

Read more

बुधवार को हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में हुई सीजन की पहली बर्फबारी

शिमला में सुबह हुई मौसम की पहली बर्फबारी से पर्यटकों के चेहरे खिल गए हैं। पर्यटकों ने बर्फबारी का जमकर आनंद लिया। बर्फबारी ने पर्यटकों के साथ स्थानीय होटल कारोबारियों के चेहरे पर चमक ला दी। बर्फबारी का आनंद लेने के लिए पर्यटक रिज़ और मॉल रोड पर एकत्र हो गये। मौसम विभाग ने बताया कि शिमला में अब तक 6।8 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है। बर्फबारी अब भी जारी है।

Read more

15 दिसंबर से शुरू होगी कालका-शिमला ट्रेन, शीशे से बने कोच से सफ़र होगा रोमांचक

पारदर्शी कोच में बैठकर 96 किलोमीटर लंबे इस ट्रैक का सफर करना बेहद रोमांचक होगा। रेल मंत्री ने अपनी हिमाचल प्रदेश की यात्रा के दौरान इस कोच को तैयार करने के निर्देश दिए थे। करीब दस लाख रुपए के खर्चे से इस विशेष कोच को तैयार किया गया है। विस्टा डोम कोच में बैठकर बड़ी खिड़कियों और कांच की छत से प्राकृतिक सौंदर्य को करीब से देखा जा सकेगा। सुरक्षा को देखते हुए मजबूत कांच का उपयोग किया गया है। पर्यटकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए इसे वातानुकूलित बनाया गया है। कोच के अंदर सुंदर दिखने वाली फ्लोरिंग लगाई जा रही है।

Read more

शिमला को मिलेगा जाम से छुटकारा, मुख्यमंत्री ने किया बहुमंजिला पार्किंग का लोकार्पण

लगभग 64 करोड़ रुपये की लागत से बने इस बहुमंजिला पार्किंग के शुरू होने से पर्यटक वाहनों के शिमला शहर में दाखिल होने से लगने वाले जाम से निजात मिलेगी। प्रशासन चाहता है कि बाहर से आने वाले पर्यटक वाहनों को इसी बहुमंजिला पार्किंग में पार्क किया जाएं। ऐसा करने से सड़कों पर से वाहनों का दबाव कम होगा और जाम की स्थति नहीं बनेगी।

Read more

लंबे इंतजार के बाद पर्यटकों के लिए खोले गए राजाजी टाइगर रिजर्व की मोतीचूर रेंज के गेट

हर साल राजाजी टाइगर रिजर्व की मोतीचूर रेंज का गेट 15 नवंबर को खोला जाता है, लेकिन इस वर्ष निर्धारित तिथि से 13 दिनों की देरी से 28 नवंबर को खोला गया है। दरअसल मोतीचूर रेंज में टाइगर शिफ्टिंग प्रोजेक्ट चल रहा है, जिसके कारण राजाजी टाइगर रिजर्व की मोतीचूर रेंज को पर्यटकों के लिए देरी से खोला गया। हालांकि मोतीचूर रेंज के कई हिस्से अभी भी ऐसे हैं, जहां पर्यटकों की आवाजाही बंद है।

Read more

त्रिवेंद्र सिंह रावत ने की राजकीय औद्योगिक विकास एवं सांस्कृतिक गौचर मेले की शुरुआत

इस बार गौचर मेले में कई तरह के राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। गौचर मेले में फन गेम्स, मैजिक शो, रोबोटिक डांस, सेडो डांस, पुराने पहाड़ी गेम्स सहित कई तरह के खेलों का आयोजन किया जाएगा। इनके अलावा फिल्म फेस्टिवल, मास्टरशिप प्रतियोगिता, एडवेंचर स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी तथा राज्य स्तरीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा।

Read more

बर्फबारी से स्वर्ग जैसा खूबसूरत हुआ मनाली का नजारा, खिले सैलानियों के चेहरे

पर्यटन नगरी मनाली में सात सेंटीमीटर बर्फबारी दर्ज की गई है। बर्फबारी के कारण मनाली का न्यूनतम तापमान माइनस 1.2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। बर्फबारी के चलते मनाली का नजारा स्वर्ग जैसा खूबसूरत हो गया है। पूरा मनाली बर्फ की सफ़ेद चादर से ढका हुआ नजर हुआ है। कारें और घर बर्फ की चादर में छिप गई हैं। बर्फबारी के कारण पर्यटक मनाली व आसपास के पहाड़ी इलाकों में पहुंचना शुरू हो गए हैं।

Read more

बारिश-बर्फबारी के बाद हिमाचल में सूरज ने बिखेरी रोशनी, खूबसूरत हुआ पहाड़ों का नजारा

कुल्लू व लाहुल-स्पीति घाटी में पिछले तीन दिनों से जारी बर्फबारी और बारिश के बाद गुरुवार को मौसम साफ़ हुआ। इससे पहले बुधवार को लाहुल स्पीति, किन्नौर, शिमला सहित अन्य ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी होने से निचले इलाकों में ठंड बढ़ गई है। बुधवार रात को नारकंडा, खड़ापत्थर, रोहड़ू की चांशल घाटी सहित ऊंचे स्थानों पर हिमपात हुआ। बुधवार सुबह लाहुल स्पिति के कोकसर में 8 इंच ताजा बर्फबारी हुई है।

Read more

उखीमठ पहुंचे भगवान केदारनाथ का भक्तों ने किया भव्य स्वागत, छः महीने तक यहीं होगी पूजा

उखीमठ में केदारनाथ की पंचमुखी उत्सव मूर्ति को परंपरागत पूजा अर्चना के साथ मंदिर के गर्भ गृह में रखा गया। इसी के साथ बाबा केदारनाथ की पंचमुखी मूर्ति को ओंकारेश्वर मंदिर मे विराजमान कराया गया और शीतकालीन पूजाएं शुरू हो गई। श्री बदरीनाथ केदारनाथ मन्दिर समिति के सदस्य ने जानकारी देते हुए बताया कि केदारनाथ मंदिर के कपाट बंद होने के बाद सेना की जेकलाई रेजीमेंट के बैंड की धुनों पर केदारनाथ की डोली वहां से निकली।

Read more

पर्यटन नगरी में 2 जनवरी से शुरू होगा विंटर कार्निवाल, साहसिक खेलों को मिलेगा बढ़ावा

गोविंद ठाकुर ने बताया कि अगर कार्निवाल के दौरान बर्फबारी हुई तो सोलंग की ढलानों पर शीतकालीन प्रतियोगिताएं होंगी। कार्निवाल को सफल और रोचक बनाने के लिए सभी संगठनों के सुझाव लिए जाएंगे। गोविंद ठाकुर ने सभी लोगों से अच्छे-अच्छे सुझाव लेकर अगली बैठक में आने का निर्देश दिया ताकि कार्निवाल को बेहतर बनाया जा सके। कार्निवाल में हिमाचल की समृद्ध संस्कृति को पर्यटकों के समक्ष रखा जाएगा। विंटर कार्निवाल के मुख्य आकर्षण विंटर क्वीन, वायस ऑफ कार्निवाल के लिए प्रदेश में ऑडिशन करवाए जाएंगे। 12 नवंबर को सुबह 11 बजे मनाली के मिनी सचिवालय में हुए इस बैठक में मनाली के तमाम सरकारी व गैर सरकारी संगठन उपस्थित रहें।

Read more
error: Content is protected !!